शुक्रवार, 29 जुलाई 2011

हम ने सुना है ...........

m - हम ने सुना है ...........
लाखों
हजारों में तुमने हम को चुना है
हम
ने सुना है ...........!
F - सच है सच है बिलकुल सच है
हमने
चुना है ........
लाखों
हजारों तुम को ही हम ने चुना है
तू
है जो सब से अलग है
तू
है जो दुनियां से न्यारा
देखे
जहाँ में लाखों
तू
ही लगा सबसे प्यारा

m - एसा भी कोई नहीं है
कुछ
तो सभी में कमी है |
F - सच है सच है बिलकुल सच है
कमी
है ...कमी है ....
तेरे
जीवन में हमदम एक बस मेरी कमी है
मायूश
है देखो अम्बर
नदियों
भी तो नमी है |

m - थम लो बाहें आकार |
जैसे
मिले नदिया सागर ||

2 टिप्‍पणियां:

  1. हा हा हा......
    बहुत मजेदार गीत... अगर मौका मिले तो बोम्बे जाकर गीत लेखन में भाग्य आजमाओ....सफलता निश्चित मिलेगी....!!!अच्छा रोमांटिक गीत

    उत्तर देंहटाएं